ब्रेकिंग न्यूज़  
  • OMG ! कैटरीना ने आजतक नहीं मनाया वैलेंटाइन डे

    मुंबई। बॉलिवुड के लव बर्ड्स वैलेंटाइन वीकेंड मना रहे हैं । तो कई जोड़े ऐसे हां जो एक दूसरे से नाराज हैं और वैलेंटाइन गिफ्ट देकर उन्हें मना ही लेंगे। लेकिन इस प्यार भरे सप्ताह में कैटरीना कैफ ने एक ऐसा चौंकाने वाला खुलासा किया है कि उसे सुनकर आप भी चकरा जायेंगे। 

    दरअसल कैटरीना ने खुसाला किया है कि ,उन्होंने कभी वेलेन्टाइन डे मनाया ही नहीं है। रिपोर्ट्स के मुताबिक कैटरीना का कहना है, "वेलेन्टाइन डे के दौरान  वह आजतक अपने काम पर ही रही हैं  लेकिन उपर वाले की मर्जी हुई तो जल्दी ही वह पार्टी करेमगी। कैट को उम्मीद है कि इस वैलेंटाइन वेलेन्टाइन डे पर वह 'फितूर' की सक्सेस पार्टी करेंगीं।"

    हालांकि कैटरीना कैफ का ऐसा बयान सबको चौंका गया है क्योंकि वह रणबीर के साथ सात साल तक रिलेशनशिप में रहीं हैं।ये बात और है कि दोनों ने पब्लिकली कभी भी इस बात को स्वीकार नहीं किया। लेकिन कहा जाता है कि 2009 की हिट फिल्म 'अजब प्रेम की गजब कहानी' के सेट पर ही दोनों एक दूसरे के करीब आये थे। इसके अलावा 6 महीने तक वे लिव-इन रिलेशनशिप में भी थे। पिछले कुछ दिनों से मीडिया में उनके ब्रेकअप की खबरें जरूर सुर्खियां बनी हुई हैं । लेकिन वैलेंटाइन ना मनना यह कुछ पच नहीं रहा। 

  • ' राजनीतिक द्वेष की वजह से बिहार में चुन - चुनकर नेताओं को मारा जा रहा है '

    पटना । शुक्रवार को आरा के सोनबर्षा में प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष विशेश्वर ओझा की हत्या ने पूरी तरह से राजनीतिक रंग ले लिया है। सूबे में बढ़ते अपराध ग्राफ ने सरकार से लेकर पुलिस विभाग तक की नींद हराम कर रखी है । NDA ने रविवार को इसके विरोध में बिहार बंद बुलाया है । जहां एक ओर गठबंधन के नेता विपक्ष के आरोप को सिरे से नकार रहे हैं तो दूसरी ओर विपक्ष के हमले कानून व्यवस्था पर तेज होते जा रहे हैं । लोजपा नेता बृजनाथी सिंह की हत्या का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा कि भाजपा के एक बड़े नेता की हत्या ने सबको सन्न कर दिया है।  इस पूरे मामले और राज्य की कानून व्यवस्था पर लोजपा नेता चिराग पासवान अपनी कड़ी प्रतिक्रिया दी है। चिराग ने कहा है कि ,

    “ राजनीतिक द्वेष की वजह से लगातार हमारे प्रदेश में एक के बाद एक हत्यायें हो रही हैं । कुछ समय पूर्व जिस तरह से लोजपा नेता बृजनाथी सिंह की हत्या की गई , फिर विशेश्वर ओझा जी की हत्या हुई, यह पूरी तरह से दर्शाता है कि राजनीतिक द्वेष की वजह से षडयंत्र के तहत चिन्हित करके ऐसे लोगों को मौत के घाट उतारा जा रहा है , जिन्होंने कभी ना कभी महागठबंधन या उनके नेताओं के खिलाफ अपने स्वर प्रमुखता से रखे थे । यह चिंता का विषय है और इस पर हमारे मुख्यमंत्री जो कि राज्य के गृहमंत्री भी हैं, उन्हें ही देना होगा कि आखिर कब इन राजनीतिक हत्याओं के उपर अंकुश लगेगा । इसलिए इस पर रविवार को NDA की ओर से शाहाबाद में एकदिवसीय बंद बुलाया गया है और रविवार को ही राज्यपाल से मुलाकात करके जो लोजपा की पहले भी मांग रही है कि बिहार में राष्ट्रपति शासन लागू होना चाहिए । इसपर अपनी मांग राज्यपाल से मिलकर औपचारिक तौर रखेंगे और यदि जरूरत पड़ी तो हम बिहार बंद का भी आह्वान करेंगे।“

  • विधायकों की करतूत से शर्मिंदा बिहार

    हमें आपको लगता है कि देश की लड़कियों को सड़क के गुंडों से डर लगता होगा। बिहार चलिए, यहां लड़कियों को गुंडों से कम सफेद कपड़ेवाले मवालियों से सबसे ज्यादा डर लगता है। यह सुनकर हैरान ना हो कि सफेद कपड़ों वाले माननीय की तुलना गुंडों मवालियों से क्यों की जा रही है। इसके दो-दो उदाहरण हैं।

    ताजा मामला है नालंदा की रहनेवाली एक नाबालिग का जिसने नावादा के आरजेडी विधायक राजबल्लभ यादव पर रेप करने का आरोप लगाया है। नालंदा की रहनेवाली इस छात्रा का आरोप है कि विधायक ने कई दिनों तक रेप किया और एमएमस भी बनाया है। कुछ दिन पहले ही नालंदा महिला थाने में मामला दर्ज हुआ था। अब जाकर विधायक की गिरफ्तारी का आदेश दिया गया है।

    बात सिर्फ एक विधायक की नहीं है। बिहार में गठबंधन की सरकार है और सरकार मे तीन दल शामिल हैं। आरेजडी विधायक की कहानी तो आप ने सुन ली, अब जरा कांग्रेस विधायक की कहानी सुनिए। कुछ दिन पहले ही पटना जिले के विक्रम विधानसभा क्षेत्र सेकांग्रेस विधायक सिद्धार्थपर मसौढी थाना के सोनकुकरा गांव निवासी ने अपनी पुत्री को भगाकर ले जाने काआरोप लगाया था। हंगामे के बाद लड़की ने पुलिस के सामने आकर यह बयान दिया कि पूरे मामले में विधायक की कोई भूमिका नहीं है। लड़की ने भले ही बयान में विधायक को क्लीन चिट दे दी, लेकिन इतना को साफ हो गया था कि उसके उपर राजनीतिक प्रेशर था।

    इससे पहले ट्रेन में महिला से छेड़छाड़ के मामले में एक विधायक जी की खूब जगहंसाई हुई थी। नीतीश कुमार के राज में सबकुछ वैसा नहीं चल रहा है जैसा नीतीश की छवि है या लोगों की उम्मीदें हैं। नीतीश कुमार ने इस तरह के तमाम मसलों पर देर सबेर सक्रियता दिखाई है, लेकिन इसका असर होता हुआ नहीं दिखता। 

  • पहले झारखंड में हो रही हत्याओं पर विपक्ष दे जवाब - तेजस्वी

    पटना। बिहार में दो दिन में दो भाजपा नेताओं की हत्या ने कानून व्यवस्था को लेकर बहुत बड़ा प्रश्न चिन्ह खड़ा कर दिया है। नीतीश कुमार ने सूबे के लॉ एंड ऑर्डर को लेकर दो बार पुलिस विभाग के साथ समीक्षा बैठक भी की और कानून राज कायम रखने के सख्त निर्देश भी जारी किए। लेकिन बैठक के आखिरी दिन ही इसकी हवा निकल गयी।

    आरा के सोनबरसा में सरेआम प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष विशेश्वर ओझा को अपराधियों ने गोलियों से भून डाला । हालांकि ओझा के राजनीति में आने से पहले जुर्म से पुराना नाता भी रहा था । इससे पहले दिनदहाड़े  LJP नेता बृजनाथी सिंह की हत्या AK- 47 से, इन मामलों ने अब प्रदेश में पूरी तरह से तूल पकड़ लिया है और नीतीश सरकार को चारों ओर से कटघरे में ला खड़ा किया है। कानून व्यवस्था पर उठ रहे सवालों को सूबे के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने साफ दरकिनार करते हुए कहा कि,           

    ‘जिस हिसाब से विपक्ष इस मुद्दे को बार - बार उठा रहा है तो हम लोगों से और मीडिया से भी यह कहना चाहते हैं कि , बिहार को जो लोग बदनाम कर रहे हैं और साथ ही जो बिहार को लोगों को डराने का काम कर रहे हैं  तो इसका राजनीति नहीं होनी चाहिए । हालांकि झारखंड में JMMके नेताओं को भी गोली मारी गयी और JVM के नेता पर भी गोली चलायी गयी तो इसपर वहां के लोग क्यों नहीं झारखंड की सरकार पर उंगली उठाने का काम करते हैं । सिर्फ बिहार को ही मुद्दा क्यों बनाया जाता है।‘ 

  • कर्नाटक के धारवाड़ में राजकीय सम्मान के साथ हुआ लांस नायक का अंतिम संस्कार , गांव वाले बनायेंगे स्मारक

    नई दिल्ली। सियाचिन में अचानक हुए हिम भूस्खलन में 35 फीट बर्फ की सख्त दीवार के नीचे दबे होने के बावजूद 3 दिनों तक अपनी जिंदगी की जद्दोजहद अस्पताल में करने के बाद लांसनायक हनुमनथप्पा  अपनी जिंदगी की जंग हार गये । कर्नाटक के धारवाड़ की कुडांगोल तालुका के बेतादूर गांव में शुक्रवार को इस वीर जवान का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार हुआ। धारवाड़ में शहीद का शव पहुंचने के बाद से ही वहीं पैर रखने तक की जमीन नहीं थी। हजारों लोगों ने आंखों में आंखू भरकर इस वीर को अंतिम सलामी दी। लांस नायक हनुमनथप्पा के गांववालों ने यह फैसला लिया है कि,गांव में एक बड़ा स्मारक वीर की याद में बनाया जायेगा।  हनुमनथप्पा को गुरुवार को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी थी। वीर के पार्थिव शरीर पर तीनों सेना के चीफ और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने फूल चढाये थे। हनुमनथप्पा की जिंदगी की सलामती के लिए देशभर में दुआयें मांगी गयीं । लेकिन भगवान की मर्जी के आगे किसी की नहीं चलती । हनुमनथप्पा की पत्नी और दो साल की बेटी के साथ पूरा परिवार वीर को अंतिम विदाई दे रहा था और उनके आंसू थम नहीं रहे थे। 

    बता दें कि दिल्ली के आर्मी अस्पताल में तीन दिनों से इलाजरत लांस नायक हनुमनथप्पा ने गुरूवार को 11.45 बजे अंतिम सांस ली थी । तीन दिनों तक हनुमनथप्पा को वेंटिलेटर पर रखा गय़ा था । वह कोमा में चले गये थे। डॉक्टर्स ने पहले ही उनकी हालत को नाजुक बताया था। जवान निमोनिया से ग्रसित था और किडनी और लीवर ने भी काम करना बंद कर दिया था। साथ ही उन्हें लो ब्ल्ड प्रेशर की भी समस्या हो गयी थी। जवान की इलाज के लिए न्यूरोलॉजिस्ट, नेफ्रोलॉजिस्ट, एंडोक्राइनोलॉजिस्ट और सर्जन की एक टीम लगी हुई थी। लेकिन फिर भी उन्हें बचाया नहीं जा सका । हनुमनथप्पा 6 दिनों तक सियाचिन में आए में 35 फीट मोटी बर्फ के दबे रहे । जब उन्हें आर्मी ने रेस्क्यू करके निकाला तो उनकी नाड़ी चल रही थी। रेस्क्यू टीम को यह किसी चमत्कार जैसा ही लगा क्योंकि बर्फ में 35 मिनट से ज्यादा दबने के बाद 27 प्रतिशत लोग ही जिंदा बच पाते हैं । हालांकि कहा तो यह भी जा रहा है कि हनुमनथप्पा योग करते थे और यही वजह भी रही होगी कि वह इतने दिनों तक मोटी बर्फ की दीवार के नीचे दबे रहे और जीवीत रहे। इस बर्फिले तूफान में हनुमनथप्पा के 9 साथियों की भी जान चली गयी।      

 
LIVE NEWS
BIG NEWS
 
KASHISH NEWS PROGRAMMES
kashish News Programmes...
 
 
 
व्यापार
शानदार : महज 1 लीटर में कार तय करेगी 100 km की दूरी

ऑटोएक्सपो 2016 के दौरान फ्रेंच कार निर्माता रेनॉ ने एक ऐसी कार पेश की है जिसे सुन सब हैरान हैं ,रेनॉ कंपनी का दावा है कि कार एक लीटर पेट्रोल में लगभग 100 किलोमीटर की दूरी...

बॉलीवुड
OMG ! कैटरीना ने आजतक नहीं मनाया वैलेंटाइन डे

मुंबई। बॉलिवुड के लव बर्ड्स वैलेंटाइन वीकेंड मना रहे हैं । तो कई जोड़े ऐसे हां जो एक दूसरे से नाराज हैं और...

 
खेल जगत
..PICTURE GALLERY
आपकी राय
क्या जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया की देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तारी उचित है?
 
 
प्रादेशिक
विश्वजगत
 
Facebook Like
जरुर देखें
KASHISH NEWS OTHER SERVICES BE CONECTED   LINKS
© 2016 Kasish News. All rights reserved. Developed By : SAM Softech