Manor-One
  ब्रेकिंग न्यूज़  
  • ICC वनडे रैंकिंग में विराट पहुंचे दूसरे स्थान पर तो भुवनेश्वर टॉप टेन में

    नई दिल्ली। विराट कोहली ने अपनी परफार्मेंस में कमाल कर दिया है। विराट आइसीसी वनडे रैंकिंग में दूसरे स्थान पर पहुंच गए हैं जबकि टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार टॉप टेन में जगह बनाने में कामयाब हुए हैं।

    विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ आखिरी वनडे में धर्मशाला में 127 रन समेत इस सीरीज में 191 रन बनाए। टीम इंडिया ने ये सीरीज 2-1 से जीता। कोहली ने रैंकिंग में साउथ अफ्रीका के हाशिम अमला को पीछे छोड़ते हुए दूसरा स्थान हासिल किया जबकि पहले नंबर पर साउथ अफ्रीका के ही एबी डिविलियर्स हैं।

    वनडे रैंकिंग में टीम इंडिया के कप्तान महेन्द्र सिंह धौनी छठे नंबर पर जबकि शिखर धवन आठवें स्थान पर हैं। सुरेश रैना की रैंकिंग में भी सुधार हुआ है और वो अब 15 वें नंबर पर पहुंच गए हैं। इसके अलावा भारतीय गेज गेंदबाज भुवनेश्वर सातवें नंबर पर पहुंच गए हैं तो रविन्द्र जडेजा छठे स्थान पर आ गए हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज में शानदार गेंदबाजी कर दस विकेट लेने वाले मो. शमी 16वें नंबर पर पहुंच गए हैं। टीम रैंकिंग की बात करें तो भारत 113 अंक लेकर साउथ अफ्रीका के साथ संयुक्त रूप से दूसरे नंबर पर बना हुआ है।


  • विशेष राज्य के दर्जे को लेकर जेडीयू ने दिया प्रदेशभर में धरना

    पटना। केंद्र सरकार के खिलाफ बिहार की उपेक्षा का आरोप लगाते हुए नीतीश कुमार ने विशेष राज्य को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है । नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू ने आज प्रदेशभर में धरना दिया और केंद्र सरकार के खिलाफ लड़ाई का ऐलान किया। वहीं पटना में नीतीश कुमार भी बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने के नाम पर पटना के जेपी गोलंबर चौक पर धरने पर बैठे और उन्होने फिर मोदी सरकार से बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग की है।

    नीतीश कुमार ने साफतौर पर कहा है कि बिहार की जनता ने सबसे ज्यादा भाजपा को समर्थन दिया। लेकिन बिहार के हक की लड़ाई लड़ने पर भी बिहार को छोड़ तेलंगाना राज्य को विशेष राज्य का दर्जा दिया। साथ ही उन्होने कहा कि जब हम विशेष दर्जे की लड़ाई लड़ रहे थे तो भाजपा ने भी बिहार में आंदोलन किया था और कहा था कि केंद्र में भाजपा की सरकार बनेगी तो बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिलेगा।

    यही नहीं भाजपा पर निशाना साधते हुए नीतीश ने कहा कि बिहार की उपेक्षा हो रही है और से एक भी अच्छा ट्रेन नहीं मिला। रेलवे की कई परियोजनायें बंद पड़ी हैं।पटना की गांधी सेतु की हालत जर्जर है और भारत सरकार को इसके रखरखाव के लिए ध्यान देना चाहिए।हमने पूरी कोशिश की लेकिन सरकार ने  NHबनाने के ले एक भी पैसा नहीं दिया । भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि सफलता से भाजपा के लोग बौरा गये हैं। हरियाणा में भाजपा अपनी जीत पर छमक रहे हैं और हम पर ही आरोप लगा रहे हैं। लेकिन हम सभी को एक मंच पर लाना चाहते हैं और हम नफा या नुकसान की राजनीति नहीं करते ।

    नीतीश कुमार ने तो यहां तक कह दिया कि हर बात के लिए भाजपा मुझे दोषी ठहरा रही है और ये कह रही है कि  बिहार में रिमोट से सरकार चल रही है लेकिन हम सरकार रिमोट से नहीं बल्कि मोर्चा खोलकर लड़ाई लड़ते हैं।

    चीन और पाकिस्तान के मुद्दे पर निशाना साधते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि चीन के राष्ट्रपति को झूला झूलाया जा रहा था और उधर चीनी सेना भारत में घुसपैठ कर रही थी।   

    इसके साथ ही और भी कई बातों का जिक्र करते हुए एकबार फिर से बिहार को विशेष राज्य को दर्जा देने की मांग की और इसके ले दम तक लड़ाई लड़ने की बात भी कही।    






  • धौलाकुआं गैंगरेप के पांचों आरोपियों को उम्रकैद की सजा

    नई दिल्ली। बहुचर्चित धौलाकुआं सामूहिक दुष्कर्म कांड में द्वारका की फास्ट ट्रैक कोर्ट ने सभी पांचों आरोपियों को उम्र कैद की सजा सुनायी है। इसके अलावा सभी दोषियों पर कोर्ट ने पचास-पचास हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है। पूरे मामले में सुनवायी 4 सालों से चल रही थी । कोर्ट ने इस पूरे मामले में दिल्ली पुलिस की जांच और दलील को सही माना और इन पांचों को अपहरण और बलात्कार का दोषी माना। इस केस में अभियोजन और बचाव पक्ष की दलील पहले ही पूरी हो चुकी थी लेकिन फास्ट ट्रैक कोर्ट के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश वीरेंद्र भट्ट ने फैसला सुनाने के लिए सोमवार का दिन तय किया था।

    गौरतलब है कि शुक्रवार को अभियोजन पक्ष के वकील ने फास्ट ट्रैक कोर्ट में दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग करते हुए कहा था कि यह न केवल पीड़िता पर शारीरिक हमला था बल्कि इससे उसे भारी मानसिक आघात भी पहुंचा है।वकील ने कोर्ट में अपना अभियोजन का पक्ष रखते हुए ये भी कहा कि पांचों आरोपियों को कठोर ठंड देने से ऐसी अपराधिक सोच रखने वाले अपराधियों के बीच एक कड़ा संदेश भी जाएगा।

    वहीं,दूसरी ओर बचाव पक्ष के वकील ने अपना पक्ष रखते हुए कोर्ट से अनुरोध करते हुए कहा था कि सजा देते वक्त इनके परिवार का भी ख्याल रखा जाए क्योंकि उनका परिवार उन्ही की कमाई पर निर्भर है।   परिवार केवल उन्हीं की कमाई पर निर्भर है। उनके खिलाफ अन्य कोई मामला नहीं है।

    दरअसल ये घटना 24 नवंबर 2010 की है। जब दिल्ली के धौलकुंआ के इलाके में बीपीओ में काम करने वाली एक 30 साल की युवती कैब से उतरकर अपनी सहेली के साथ घर लौट रही थी कि तभी एक पिकअप वैन में बैठै 5 लोगों ने उसका अपहरण कर लिया और सबने उसके साथ रेप कर उसे बदहवास हालत में दिल्ली के ही मंगोलपुरी इलाके में फेंक दिया। पुलिसस ने पिकअप वैन, आरोपियों के मोबाइल और डीएमए सबूत के तौर पर पेश किया था।


  • राजनाथ का मुंबई दौरा रद्द्, अब कल आयेंगे और गठबंधन पर लेंगे फैसला

    नई दिल्‍ली। महाराष्ट्र में चुनाव के जो नतीजे आये वो काफी चौकाने वाले आए ।भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है लेकिन फिर भी वो अकेले अपने दम पर सरकार नहीं बना सकती है क्योंकि बहुमत जुटाने में कुछ कदम पीछे रह गयी। भाजपा किसके साथ मिलकर सरकार बनायेगी ये सबसे अहम है । एक ओर गठबंधन के पुराने साथी शिवसेना से समर्थन पर बात चल रही है तो वहीं एनसीपी ने बिना किसी शर्त भाजपा को बाहर से समर्थन देने की बात कही है। लेकिन सियासी सरगर्मियों के बीच केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह और जेपी नडडा का आज मुंबई आने वाले थे और आगे की रणनीति तय करने के लिए , लेकिन उनका मुंबई दौरा रद्द कर दिया गया है। अब वे दोनों  मंगलवार को मुंबई जाएंगे और राज्‍य के नए मुख्‍यमंत्री और अपने सहयोगी का नाम तय करेंगे।  दरअसल शिवसेना ने आज भाजपा को समर्थन के मुद्दे पर अपनी एक अहम बैठक बुलाई है, और इसी वजह से भाजपा नेताओं का मुंबई दौरा रद किया गया है।  वहीं ने भाजपा ने एक बात पूरी तरह से साफ कर दी है कि  पहले वो समर्थन के मुद्दे पर शिवसेना का रूख देखना चाहती है और फिर तभी फैसला होगा। यही नहीं इसके अलावा भाजपा ने यह भी साफ कर दिया है कि शिवसेना यदि बिना शर्त उन्‍हें समर्थन देने को तैयार है तो वह उसके साथ चलने को तैयार होगी वरना नहीं।

     

    भाजपा इस बात को मान रही है कि प्रदेश में सियासी समीकरण चुनाव परिणाम के बाद पूरी तरह से बदल चुके हैं और अब शिवसेना बड़े भाई की भूमिका में नहीं है इसलिए उसको भाजपा के अनुसार ही चलना होगा। लेकिन सूत्रों के हवाले से अंदरखाने की खबर तो ये भी आ रही है कि शिवसेना भाजपा को सशर्त समर्थन देने को तैयार है। यही नहीं वो सरकार में शामिल होने की मंशा भी रखती है। बीजेपी का मानना है कि शिवसेना पहले अपना रूख साफ करे तभी आगदे इसपर कदम बढ़ायेंगी। वहीं दूसरी ओर एनसीपी भाजपा को बिना शर्त समर्थन देने को तैयार है। चूंकि महाराष्‍ट्र विधानसभा में 122 सीटें पाई भाजपा को यदि एनसीपी की 41 सीटें मिल जाती हैं तो वह आसानी के साथ सरकार बना सकती है। वैसे आपको बता दें कि मंगलवार का दिन महाराष्ट्र की राजनीति में काफी महत्वपूर्ण है।

    गौरतलब है कि महाराष्ट्र विधानसभा के 288 सीटों पर 122 सीट पर भाजपा ने अपना कब्जा जमाया है। तो वहीं 63 पर शिवसेना और 41 सीट पर एनसीपी को जीत मिली है। जबकि प्रदेश में सरकार बनाने के लिए किसी भी दल या गठबंधन के पास 145 सीटों का होना जरूरी है।

     

    हालांकि सूत्रों के हवाले से खबर ये भी है कि भाजपा की पहली पसंद शिवसेना है । जिसके साथ मिलकर भाजपा सरकार बनाना चाहती है। लेकिन बस इंतजार अब पहल की है कि आखिर ये पहला कदम किसका होगा, क्योंकि दोनों ही पार्टी चाहती है एक दूसरे का साथ। बस थोड़ी हिचक रह गयी है और इसके साथ ही कुछ शर्त भी हैं साथ।

  • दीक्षांत समारोह में डॉक्टर्स से बोले मोदी, दायित्व के प्रति रहें गंभीर

    नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज एम्स के दीक्षांत समारोह में भाग लेने पहुंचे। दीक्षांत समारोह में पीएम काफी अच्छे मूड में दिखे और उन्होने डॉक्टर्स से काफी हल्के में आराम से और अच्छे दोस्त की तरह बात की। मोदी ने कहा कि मुझे यहां इसलिए बुलाया गया है क्योंकि मैं इस देश का प्रधानमंत्री हूं। उन्होने खुद पर ही चुटकी लेते हुए कहा कि मैं तो हर जगह चला जाता हूं , लेकिन डॉक्टर्स के दीक्षांत समारोह में बुलाने की बात समझ नहीं आयी क्योंकि ना तो मैं अच्छा डॉक्टर हूं और ना पेशेंट ही हूं।  

     

    समारोह में गंभीर होकर बैठै छात्रों को पीएम मोदी मे कहा कि ना तो मैं कभी अच्छा स्टूडेंट रहा हूं और ना ही मुझे कोई अवार्ड मिला है इसलिए बारिकियों के बारे में ज्यादा कुछ नहीं बता सकता। अपने संबोधन में पीएम ने कहा कि जब छात्र परीक्षा देते हैं तो काफी टेंशन में रहते हैं । लेकिन आप सब इन चीजों को पार गये हैं तो आप सब इतने गंभीर होकर क्यों बैठे हैं। पीएम ने कहा कि मैं चाहता हूं कि आप सब अपने दायित्व के प्रति इससे भी ज्यादा गंभीर हों। लेकिन अपने जीवन में इतना गंभीर मत होना। पीएम के कथन को सुनकर सभी छात्रों ने ताली बजाकर उनके इस बात का स्वागत किया। मोदी ने एकलव्य का जिक्र भी किया और कहा कि अगर वो गुण किसी व्यक्ति में नहीं होगा तो वो पीछे ही होता चला जायेगा।

     

    पीएम ने समारोह में मौजूद छात्रों से कहा कि समारोह में मौजूद सभी छात्र यहां से बाहर निकलते ही छात्र नहीं रहेंगे बल्कि समाज के जिम्मेदार डॉक्टर बन जायेंगे। इस लिहाज से जरूरी है कि अपनी भूमिका को बेहर तरीके से  निभाने की कोशिश करें।

     पीएम ने समारोह में मौजूद एम्स के वरिष्ठ अधिकारियों से कहा कि इस तरह के समारोह में गरीब बस्ती के होनहार बच्चों को विशेष अतिथि बनान चाहिए।

     

    एम्स के दीक्षांत समारोह में पहुंचे मोदी ने एक बार फिर वहां मौजूद लोगों से देश के विकास में भागीदार बनने की अपील की। उन्होंने कहा कि कोई भी, किसी भी समय उन्हें अपने विचार भेज सकता है।

     

 
LIVE NEWS
BIG NEWS
 
Sail city
..PICTURE GALLERY
 
 
व्यापार
केंद्र सरकार का जनता को दिवाली का तोहफा, डीजल हुआ 3 रूपये 37 पैसे सस्ता

नई दिल्ली। केंद्र में बैठी भाजपा की सरकार ने जनता को दिवाली का एक और तोहफा दिया है।वित्त मंत्री अरूण जेटली ने आज डीजल के दाम घटाने के साथ ही और भी की ऐलान किया है।हाल के दिनों...

बॉलीवुड
एक था टाइगर को पछाड़ बैंग बैंग निकली आगे , फिल्म ने बटोरे 323 करोड़

नई दिल्ली। रितिक रोशन की फिल्म 'बैंग बैंग' सलमान की फिल्म एक था टाइगर को पछाड़ते हुए आगे निकल गयी है और फिल्म ने वल्र्डवाइड 323...

 
खेल जगत
PICTURE
आपकी राय
बकौल सचिन ट्वंटी-20 फार्मेट ने क्रिकेट को और रोमांचक बना दिया है. क्या आप सहमत हैं?
 
 
प्रादेशिक
विश्वजगत
 
24 घंटों में दो बार पाक ने किया संघर्ष विराम उल्लंघन, भारतीय सेना ने भी दिया करारा जवाब
 
KASHISH NEWS OTHER SERVICES BE CONECTED   LINKS
© 2014 Kasish News. All rights reserved. Developed By : SAM Softech