Manor-One
  ब्रेकिंग न्यूज़  
  • झारखंड में कांग्रेस की सरकार बनीं तो लोगों के हाथ में झाड़ू नहीं रोजगार होगा - राहुल

    चाइबासा। कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी चाइबासा में आयोजित चुनावी जन सभा को सम्बोधित करने आज जमशेदपुर हवाई अड्डा पहुंचे। जहां से वे हेलीकॉप्टर से चाइबासा रवाना हुए । इससे पूर्व राहुल ने सोनारी हवाईअड्डे पर कांग्रेस के नेताओं सहितजमशेदपुर के प्रत्याशियों से मुलाकात की। इस दौरान कांग्रेस के प्रदेशप्रभारी बीके हरिप्रसाद और राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ अजय कुमार भी उपस्थित रहे। वहीं राहुल गांधी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुलाकात के दौरान कहा की सभी लोग मोदी जी के गांव गोद लेने की योजना पर चर्चा करते हैं ,लेकिन उसके लिए सांसदों को कोई फंड भी निर्गत नहीं किया जा रहा है और सांसदों को एक गांव विकास करने की बात कही जा रही है । अजीब सी बात है, अमेठी में ही सिर्फ 700 गांव हैं ,राहुल गांधी ने मोदी पर कटाक्ष करते हुए  कहा की बहुत सारी अजीब सी बाते की जा रही हैं।

    राहुल ने लोगों को संबोधित करते हुए मोदी पर जमकर हमला करते हुए कहा कि मोदी सिर्फ 5-10 उद्योगपतियों के ही प्रधानमंत्री हैं। इससे गे बोलते हुए राहुल ने कहा कि मोदी चाहते हैं कि वो पूरा देश चलाएं, और वो कहते हैं कि मैं सब कुछ करूंगा।

    पीएम के स्वच्छता अभियान पर चुटकी लेते हुए राहुल ने कहा कि सरकार बनी तो वे कहते हैं कि, ‘भईया आप लोग झाड़ू पकड़ो और मैं जाता हूं ऑस्ट्रेलिया ‘, और मैं  ऑस्ट्रेलिया के युवाओं से कहूंगा कि आप आइए और देखिए कि हमने क्या किया।

    राहुल ने उस सभा में लोगों को हिदायत देते हुए कहा कि ये बातें आपको तब समझ आएगी, जब आपसे आपकी ज़मीन, पानी, घर सब छीन लिया जाएगा। आपसब को तब पता चलेगा कि ये किसके प्रधानमंत्री हैं। कांग्रेस की तारीफ करते हुए राहुल ने कहा कि हमने जो सबसे अच्छा काम किया वो था जमीन अधिग्रहण बिल, लेकिन वो कहेंगे के तुम हटो पर ये तुम्हारी नहीं किसी उधोगपति की जमीन है, हम नया कानून लाए। आगे बोलते हुए राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री मनरेगा, जमीन अधिग्रहण बिल बंद कर रहे हैं।


  • हम आप सबकी तकलीफ दूर कर विकास करने आए हैं - मोदी

    ऊधमपुर। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आज उधमपुर में एक विशाल चुनावी रैली हुई  और फिर उसके बाद जम्मू के पूंछ में एक चुनावी सभा हुई । मोदी की दोनों ही सभा में लोगों की भारी भीड़ थी और लोग मोदी – मोदी के नारे लगा रहे थे। अपने संबोधन में पीएम मोदी राज्य सरकार पर जमकर बरसे और उन्होनें कहा कि एक- एक करके दो पार्टियों की सरकार आती गयी और उन्होंने राज्य को नोंच- नोंच कर खाया। लेकिन अब ऐसा बिल्कुल भी नहीं होगा । अब जम्मू कश्मीर को जितनी मदद चाहिए उतनी मदद दी जाएगी। यही नहीं आगे बोलते हुए पीएम ने कहा कि घाटी को वंशवाद से मुक्त कराना है। आगे बात करते हुए मोदी ने अपनी कार्यशैली का जिक्र किया और कहा कि मैंने ऐसा स्क्रू टाइट किया है कि विरोधी तो क्या मेरे अपनी सरकार के लोग भी परेशान है। उधमपुर में बोलते हुए पीएम ने कहा कि मैं विकास के मुद्दे को लेकर आपके सबके बीच आया हूं। मैं हर महीने आपके पास आता हूं और आगे भी आता रहूंगा।

    पीएम ने कहा कि केंद्र से जो पैसा कश्मीर के लोगों के लिए आता है उससे सिर्फ कुछ परिवार के लोग अमीर हो गए हैं और ये लूट का सारा पैसा आपको वापस मिलना चाहिए। लोगों से वादा करते हुए मोदी ने कहा कि 30 साल में जो जम्मू-कश्मीर के लिए नहीं हुआ वो मैं 5 साल में करके दिखाऊंगा। नौजवानों के बारे में आगा बोलते हे मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के नौजवानों को रोजगार चाहिए और हम पूरी कोशिश करेंगे कि हम अपने युवाओं को नौकरी दें। इस राज्य में सैकड़ों युवा रोजगार के इंतजार में बैठे हैं। लेकिन उनकी तकलीफ को मैं समझता हूं और उनकी तकलीफ दूर करने की कोशिश करूंगा।

     अपने संबोधन में पीएम ने पहले चरण के चुनाव का भी जिक्र किया और कहा कि  पहले चरण में यहां रिकॉर्डतोड़ मतदान हुआ और लोगों ने आतंकियों के बुलेट का जबाव बैलेट से दिया है। आतंकी लोगों के उत्साह को देखकर घबरा गए हैं। गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में पहले चरण के वोटिंग के दौरान 70 फीसदी से ज्यादा मतदान हुआ था।


  • 39 भारतीयों को लेकर सरकार का सर्च जारी , जिंदा रहने या मारे जाने के सबूत नहीं - सुषमा

    नई दिल्ली। इराक में अगवा हुए 40 भारतीयों में 39 की मौत की खबर से उनके परिवार वाले  काफी सदमे में हैं और उस दिन को कोस रहे हैं, जिस दिन उन्होंने अपने रिश्तेदारों को वहां काम करने के लिए भेजा। दरअसल एक न्यूज चैनल पर दिखाए गए खबर के हवाले से ये बात सामने आयी है कि जून में अगवा हुए सभी 40 भारतीयों में से 39लोगों को आतंकी संगठन ISIS ने मार डाला है। इतना ही नहीं खबर में भी दिखाया गया था कि उनमें से एक शख्स भाग गया था और वो बांग्लादेशी था और उसी ने इस खबर पर अपनी पुष्टी भी की है।

    संसद में इस बात पर काफी हंगामा हुआ और फिर विदेश मंत्री  सुषमा स्वराज ने आज संसद में सरकार की सफाई पेश की और कहा कि अभी तक सरकार के पास इसकी कोई जानकारी नहीं है। संसद में आगे बोलते हुए सुषमा ने बताया कि इस तरह की खबर कोई आज पहली बार नहीं बल्कि 10 बार टीवी पर दिखायी जा चुकी है। मैंने पांच बार उन भारतीयों के परिवारवालों से मुलाकात भी की है। हरजीत नाम के एक सोर्स का जिक्र करते हुए सुषमा ने कहा कि वो पहले दिन से ही कह रहा है कि आतंकी उन्हें इरबिल ले गए। इरबिल ले जाकर भारतीयों और बांग्लेदिशियों को अलग-अलग किया गया और वहां 39 भारतीयों को मार दिया गया। लेकिन मैं बच कर आ गया। सुषमा स्वराज ने आगे बोलते हुए कहा कि अब हमारे पास दो विकल्प है पहला ये कि हम उस सच को मान लें और उनकी खोज करना छोड़ दें। जबकि दूसरा विकल्प ये है कि विरोधाभास को ध्यान देते हुए उनकी तलाश को जारी रखा जाए। लेकिन हमने उन सभी को तलाश किया,जहां और जिससे भी मदद मिल सकती है उनलोगों से संपर्क साधा। हर उस व्यक्ति से बात की। हमें एक के बाद एक 6 सोर्सेज ऐसे मिले, और उन्ही लोगों ने कहा कि लोग मारे नहीं गए।

    अपने कथन को सदन में जारी रखते हुए सुषमा स्वराज ने बताया कि हमने एक अफसर को डिप्यूट किया है जो वहां पर सिर्फ एक यही काम करता था। यही नहीं  रेड क्रिसेंट से भी बात की है। मोसुल पर जिन लोगों ने कंट्रोल कर रखा है, वहां पर सरकार नहीं है और हमें अभी तक कोई सबूत नहीं मिले हैं और डायरेक्ट संपर्क भी नहीं है। सुषमा ने कहा कि क्या हम हरजीत की बात मानकर तलाश छोड़ दें या फिर 6 सोर्सेज जो बता रहे हैं कि वो जिंदा है वो मानें। सषमा ने आगे कहा कि मेरा मानना है कि खोज जारी रखनी चाहिए। उन्होंने सदन से पूछा सदन मुझे बताए। हमने इसलिए ये रास्ता अपनाया है। मैंने कोई  गलत बात सदन में नहीं कही है।

    लेकिन इससे पहले इस मुद्दे पर विपक्ष ने सरकार को घेरा और कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि सरकार खाड़ी देशों से बात करे और संबंध सुधार कर लोगों को वापस लाए। हमारे देश के नागरिक इस तरह से पकड़े गए और मारे गए। लेकिन  देश के पीएम ने इस पर ना एक शब्द सदन में और ना ही सदन के बाहर ही कुछ बोला। शर्मा ने आगे बोलते हुए कहा कि पीएम की बातें सिर्फ दिखावे की हैं। लेकिन ये जवाबदेही सरकार की है। किस आधार पर देश को बताया गया कि लोगों को वापस लाएंगे। जबकि बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी सरकार को इस मुद्दे घेरा र सवाल किया कि आखिर उन 39 भारतीयों का क्या हुआ, सरकार की जिम्मेदारी है कि वो उन्हें सही सलामत वापस लेकर आएं।


  • नर्सरी एडमिशन पर कोर्ट खुद तय करे गाइडलाइंस - कोर्ट

    नई दिल्ली। नर्सरी दाखिले पर प्राइवेट स्कूलों को दिल्ली हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने निर्देश देते हे कहा है कि सरकार को नर्सरी दाखिले में एडमिशन में गाइडलाइंस बनाने का कोई हक नहीं है, इसमें स्कूल अपनी गाइडलाइंस खुद तय करें। इसके साथ ही हाईकोर्ट ने आदेश दिया है कि स्कूलों में नर्सरी एडमिशन पर गांगुली कमेटी की सिफारिशों पर गाइडलाइंस तय हों। इसके साथ ही कोर्ट ने कहा कि सरकार किसी भी आदेश के तहत प्रवेश प्रक्रिया लागू नहीं कर सकती। हाई कोर्ट ने कहा कि निजी गैर सहायता प्राप्त स्कूलों को प्रवेशों पर फैसला करने की प्रशासनिक स्वायत्तता मिलनी चाहिए।

    गौर करने वाली बात ये है कि पिछली गाइडलाइंस के अनुसार स्कूल के 8 किलोमीटर के दायरे में रहनेवाले बच्चों को 70 प्वाइंट देने का प्रावधान किया गया था। यदि उसी स्कूल में उनके भाई या बहन पढ़ रहें हों तो उसे 20 अतिरिक्त प्वाइंट और यदि बच्चे के माता-पिता में से कोई भी उस स्कूल के छात्र रह चुकें हो तो 5 प्वाइंट अलग से मिलने की बात थी। इतना ही नहीं ट्रांसफर केस वालों को भी 5 नंबर मिलते थे। लेकिन फिर बाद में इस फार्मूले को खत्म कर दिया गया, जिसपर काफी बवाल मचा था।



  • अरनिया में बंकर उड़ाने की तैयारी में सेना, मुठभेड़ में अब तक 4 आतंकी हुए ढ़ेर

    जम्मू। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आज पुंछ और उधमपुर में चुनावी सभा होनेवाली है। पीएम के इस दौरे के ठीक पहले गुरूवार को आतंकियों ने अरनिया में फिदायीन हमला किया। इसके बाद सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ गुरूवार से ही जारी है और ये मुठभेड़ आज भी जारी है। सेना के जवानों ने इस मुठभेड़ में 4 आतंकियों को मार गिराया है। यही नहीं सेना ने कथार गांव को भी सुरक्षा के लिहाज से पूरी तरह खाली करा लिया है। सेना अब आतंकियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने जा रही है और खबर तो यहां तक मिली है कि सेना के जिस खाली बंकर में आतंकी घुसे हैं अब सेना उसी को उड़ाने की तैयारी में लगी है।

    गौरतलब है कि पीएम के जम्मू दौरे के ठीक एक दिन पहले ही आतंकी पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ कर जम्मू में दाखिल हुए और आतंकियों ने सीमा के पास अरनिया सेक्टर में सेना के दो बंकरों पर कब्जा कर हमला कर दिया। दरअसल सेना के बंकर खाली पड़े थे और उसका इस्तेमाल सेना के जवान युद्ध के वक्त करते थे। गुरूवार को सेना और आतंकियों के बीच हुए मुठभेड़ में सेना के 3 जवान शहीद हो गए जबकि कुछ और लोग भी मारे गए थे। सेना ने अपनी जवाबी कार्रवाई में 4 आतंकियों को मार गिराया है और मुठभेड़ अब भी जारी है। सेना ने बंकरों को उड़ाने की तैयारी पूरी कर ली है और मौके पर टैंक भी तैनात कर दिया गया है। लेकिन उसे पहले शुक्रवार को सेना अपना सर्च ऑपरेशन चला रही है।

    यहां गौर करने वाली बात ये भी है कि आतंकियों ने ये घुसपैठ ऐसे समय में किया है, जब पीएम अरनिया से 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित उधमपुर में अपनी सभा करनेवाले हैं। खास बात ये भी है कि जब सार्क सम्मेलन में भारत के पीएम नरेंद्र मोदी और पाक के पीएम नवाज शरीफ की मुलाकात हुई उस दौरान ही ये हमला शुरू हुआ।

    वहीं मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने इस मुठभेड़ में शहीद हुए सेना के जवानों और मारे गए नागरिकों के परिजनों के प्रति संवेदना जतायी है। सूबे की सरकार ने इलाके के सभी पुलिस नाकों और हाई वे पर अलर्ट जारी कर दिया है, ताकि रात के अंधेरे में भागने की कोशिश करने वाले आतंकियों को पकड़ा जा सके।

    उमर अबदुल्ला ने ट्वीट करके कहा कि "काठमांडू में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व पाक प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का दक्षेस सम्मेलन में साथ होना और उसी दौरान यह हमला महज इत्तेफाक नहीं है। कुछ चीजें कभी नहीं बदलतीं।"


 
LIVE NEWS
BIG NEWS
 
Sail city
..PICTURE GALLERY
 
 
व्यापार
बाजार में छायी रही सुस्ती, निफ्टी लुढ़का 8.5 अंक तक

मुंबई। आज बाजार में काफी सुस्ती रही। सेंसेक्स और निफ्टी की चाल बेहद ही सुस्त नजर आ रही है। मेटल, पावर और बैंकिंग शेयरों में बिकवाली से बाजार पर दबाव बन रहा है। मिडकैप और स्मॉलकैप शैयरों की...

बॉलीवुड
पाक अदालत ने सुनाई वीना मलिक और उनके पति को 26 साल की कैद

इस्लामाबाद। पाकिस्तान की मशहूर अभिनेत्री वीना मलिक को पाकिस्तान की अदालत ने 26 साल कैद की सजा सुनाई है। वीना के साथ ही जियो टीवी के...

 
खेल जगत
PICTURE
आपकी राय
बकौल सचिन ट्वंटी-20 फार्मेट ने क्रिकेट को और रोमांचक बना दिया है. क्या आप सहमत हैं?
 
 
प्रादेशिक
विश्वजगत
 
KASHISH NEWS OTHER SERVICES BE CONECTED   LINKS
© 2014 Kasish News. All rights reserved. Developed By : SAM Softech