ब्रेकिंग न्यूज़  
  • कैलाश मानसरोवर जाने वालों को 1 लाख की मदद देंगे: योगी; CM ने किए 7 एलान

    गोरखपुर. सीएम बनने के बाद पहली बार अपने क्षेत्र पहुंचे योगी आदित्यनाथ ने कई एलान किए। उन्होंने एंटी रोमियो स्क्वॉड और अवैध बूचड़खाने बंद करने के नई सरकार के कॉन्ट्रोवर्शियल फैसलों का जिक्र किया। साथ ही यह भी कहा कि कैलाश मानसरोवर की यात्रा पर जाने वालों को यूपी सरकार 1 लाख रुपए का अनुदान देगी। योगी ने कहा कि उनकी सरकार में विकास सभी का होगा, लेकिन तुष्टीकरण किसी का नहीं होगा।

    1) कैलाश मानसरोवर
    - योगी ने यहां एक कॉलेज में दी स्पीच में कहा, ''आप सभी को खुशखबरी देना चाहूंगा कि आप में से जो लोग कैलाश मानसरोवर की यात्रा करना चाहते हैं और स्वस्थ हैं तो हम उन्हें एक लाख रुपए का अनुदान देंगे। लखनऊ, गाजियाबाद या नोएडा में से किसी एक स्थान पर मानसरोवर भवन शुरू करेंगे ताकि वहां से लोग आगे यात्रा बढ़ा सकें।''
     
    2) 15 जून तक यूपी की सभी सड़कें गड्ढा मुक्त करने का टारगेट
    - योगी ने कहा, ''आज ही मैंने पीडब्ल्यूडी से कहा है कि 15 जून तक यूपी से सभी सड़कें गड्ढा मुक्त हो जानी चाहिए।''
     
    3) बेटियां स्कूल जाना छोड़ रही थीं, इसलिए बनाया एंटी रोमियो स्क्वाड
    - योगी ने कहा, ''मुझे कई माताओं-बहनों के फोन आए। मुझे बताया गया कि बालिकाएं स्कूल जाना छोड़ रही हैं क्योंकि मनचले उन्हें तंग करते हैं। हमने प्रशासन से कहा है कि कई ऐसे तत्वों पर कड़ाई बरती जाए जो मनचले और शोहदे किस्म के हैं। उन पर कड़ाई होनी चाहिए। हमने बीजेपी के संकल्प पत्र की तर्ज पर एंटी रोमियो स्क्वॉड को एक्टिव कर दिया है।'' 
    - ''मैं प्रशासन से स्पष्ट कहूंगा कि राह चलते नौजवानों और सहमति के साथ बैठे युवक-युवतियों, आपसी सहमति से बात कर रहे हैं तो उन्हें कतई ना रोका जाए। लेकिन ये ध्यान रखें कि भीड़-भाड़ वाली जगह या स्कूलों के बाहर ऐसा होता है जिससे बच्चियों को खतरा होता है तो अराजक तत्वों को ना छोड़ें।''
    - ''रात 12 बजे भी बालिका सड़क पर चल रही है तो वह खुद को सुरक्षित महसूस करे, वह व्यवस्था होनी चाहिए।''
     
    4) अवैध बूचड़खानों का मुद्दा NGT ने उठाया था
    - योगी ने कहा, ''NGT ने यूपी की पिछली सरकार से कई बार कहा था कि अवैध बूचड़खानों को हटाओ। प्रदूषण फैला रहे और स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रहे बूचड़खानों को कोई छूट न दी जाए। हम NGT के आदेश पर ही काम कर रहे हैं।''
     
    5) किसान और खाद्य सुरक्षा
    आदित्यनाथ ने कहा, ''हम किसान के लिए योजना बना रहे हैं। हमने यूपी से एक टीम बाहर भेजी है। छत्तीसगढ़ में खाद्य सुरक्षा किस तरह लागू है, यह देखने के लिए हमारी टीम में दो मंत्री और चार अधिकारी वहां गए हैं। हम किसानों के शत प्रतिशत गेहूं को खरीदेंगे और पैसा उनके खाते में डालेंगे।''
     
    6) भ्रष्ट कहीं भी बैठा होगा, उसे निकाल बाहर करेंगे
    - सीएम ने कहा, ''हम भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं करेंगे। शासन में कहीं भी भ्रष्ट बैठा होगा तो उसे निकाल बाहर करेंगे। यूपी के विकास के लिए काम करेंगे।''
     

     

    7) विकास सबका होगा, तुष्टीकरण किसी का नहीं होगा
    - आदित्यनाथ ने कहा, ''हम प्रधानमंत्रीजी के सबके साथ, सबके विकास के नारे पर काम करेंगे। महजब-जाति के नाम पर किसी से भेदभाव नहीं होगा। विकास सबका होगा, तुष्टीकरण किसी का नहीं होगा, ये मैं भरोसा देता हूं।''
  • पाकिस्तान में मेहतर भर्ती के लिए हिंदू क्यों चाहिए?

    पाकिस्तान के ख़ैबर पख्तूनख्वाह सूबे की बन्नू नगरपालिका के इन दो बेचारे कर्मचारियों को समझ में ही नहीं आ रहा होगा कि उन्होंने ऐसी क्या ग़लती कर दी कि उन्हें निलंबित कर दिया गया?

    आखिर उन्होंने सफ़ाई कर्मचारियों की भर्ती के लिए एक विज्ञापन ही तो दिया था. भला बताइए कि कभी आपने पाकिस्तान में कोई मेहतर देखा है जो ईसाई या हिंदू न हो.

    इस विज्ञापन में भी अगर सरकारी अधिकारियों ने अपनी क्रिएटिविटी का इस्तेमाल करते हुए विज्ञापन में 'शिया' लफ्ज न जोड़ा होता तो सोशल मीडिया पर इतना हंगामा न होता और राज्य सरकार कोई कदम न उठाती.

    प्यारे वतन पाकिस्तान में जिस तेज़ी के साथ विभिन्न धर्मों, जातियों और अलग विचारधारा वाले समाज के हिस्सों को ग़ैर-मुसलमानों की लिस्ट में डाला जा रहा है, वो दिन दूर नहीं जब मुल्क के एक बड़े तबके के लिए केवल मेहतर की ही नौकरी बची रह जाएगी.

    सोशल मीडिया

    सवाल ये नहीं है कि इस विज्ञापन में 'शियाओं' को क्यों डाल दिया गया बल्कि सवाल ये है कि किसी भी नौकरी के लिए धर्म या संप्रदाय का बॉक्स होना ही क्यों जरूरी है. क्या मेहतर होना छोटा काम है?

    कम-से-कम आम तौर पर हम सभी समझते तो यही हैं चाहे ये जाहिर करें या नहीं. पिछले दिनों मैंने एक बड़े मौलवी का सोशल मीडिया पर एक बयान देखा.

    वैसे उनके अनुयायी बड़ी तादाद में हैं लेकिन उन्होंने अपने ताजा बयान से पाकिस्तान के करोड़ों लोगों का दिल जीत लिया होगा.

    शांति का सबक

    वे फ़रमाते हैं कि यहूदी, ईसाई, सिख और हिंदू कौम के लोग मुसलमानों से कोई संबंध नहीं रख सकते.

    जनाब पहले भी कह चुके हैं कि इस्लाम शांति का सबक नहीं देता बल्कि फ़ासला रखना सिखाता है. उनके अनुसार जो लोग कहते हैं कि कुरान अमन का संदेश देता है, उन्होंने इस पाक किताब को समझा ही नहीं.

    हजारों शिया और ख़ासकर हज़ारा लोगों को चुन-चुन कर मारा गया. लेकिन हम सीरिया और फ़लस्तीनी इलाक़ों में मुसलमानों के नरसंहार के खिलाफ जुलूस निकालते हैं.

    अहमदियों की इबादतगाह जलाई जाती है और अमरीकियों के खिलाफ ईसाई समुदाय के गिरिजाघरों पर हमले होते हैं लेकिन हम जोर देते हैं भारत में मुसलमानों की दुर्दशा पर.

    राजनीति और राज्य

    हमें अपने घर में जारी अत्याचार नज़र नहीं आता और अगर आता है तो भी हमारी भावनाएं ऐसे नहीं उमड़तीं जैसे हजारों मील दूर की घटनाओं पर उमड़ आती हैं.

    ये हमारे अंदर के पूर्वाग्रहों हैं जो दशकों में परवान चढ़े हैं या ये कहा जाए तो गलत नहीं होगा कि दशकों से परवान चढ़ाए गए हैं.

    और अब ये पूर्वाग्रह हमारी राजनीति और राज्य की आधारशिला बन गए हैं.

  • बीसीसीआई ने दिया प्रमोशन, दो करोड़ी क्लब में शामिल हुए जडेजा, पुजारा और विजय

    नई दिल्ली। दुनिया के नंबर एक टेस्ट गेंदबाज बन गए रवींद्र जडेजा, विश्वसनीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा और शानदार ओपनर मुरली विजय को उनके बेहतरीन प्रदर्शन का ईनाम मिला है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इन तीन खिलाडिय़ों को अपने ए ग्रेड के अनुबंध में शामिल कर लिया है। बीसीसीआई ने भारतीय खिलाड़ियों के लिए अनुबंध की घोषणा करते हुए बुधवार को कहा कि खिलाड़ियों की वार्षिक अनुबंध फीस में दोगुना वृद्धि कर दी गई है। अब ए ग्रेड के खिलाड़ियों को दो करोड़ रुपए, बी ग्रेड को एक करोड़ रुपए और सी ग्रेड को 50 लाख रुपए मिलेंगे जबकि इससे पहले यह राशि क्रमश: एक करोड़, 50 लाख और 25 लाख रुपए थी। बीसीसीआई का प्रशासन चलाने के लिए उच्चतम न्यायालय द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति (सीओए) ने अपनी बैठक में पुरुष क्रिकेटरों के लिए 30 सितंबर 2017 तक समाप्त होने वाली अवधि तक अनुबंध की घोषणा कर दी।

    ए ग्रेड में शामिल खिलाड़ी

     

    ए ग्रेड में मौजूदा कप्तान विराट कोहली, पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी, ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन, बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे, पुजारा, जडेजा और विजय शामिल हो गए हैं। भारतीय खिलाडिय़ों के अनुबंध की पिछली सूची नवंबर 2015 में जारी हुई थी। तब उसमें विराट, धोनी, अश्विन और रहाणे सहित चार खिलाड़ी थे लेकिन ए अनुबंध के खिलाड़ियों की संख्या सात पहुंच गई है। विजय और पुजारा को बी ग्रेड से और जडेजा को सी ग्रेड से ए ग्रेड में पहुंचाया गया है।

    बी ग्रेड में इन्हें मिला मौका

    बी ग्रेड में रोहित शर्मा, लोकेश राहुल, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा, उमेश यादव, रिद्धिमान साहा, जसप्रीत बुमराह और युवराज सिंह को रखा गया है। सुरेश रैना, अंबाति रायुडू और शिखर धवन को बी ग्रेड से हटा दिया गया है जबकि ओपनर लोकेश राहुल, विकेटकीपर बल्लेबाज साहा, ऑलराउंडर जसप्रीत बुमराह और सिक्सर किंग युवराज को बी ग्रेड में जगह दी गई है। साहा और राहुल पिछले अनुबंध में सी ग्रेड में थे जबकि युवराज को अनुबंध में जगह नहीं मिली थी लेकिन युवराज इस बार एक करोड़ के बी ग्रेड में पहुंच गए हैं। उभरते ऑलराउंडर बुमराह को भी अपने शानदार प्रदर्शन का फायदा मिला है और उन्होंने सीधे बी ग्रेड में जगह बनाई है। बी ग्रेड में पिछली बार 10 खिलाड़ियों को जगह मिली थी लेकिन इस बार यह संख्या नौ आ गई है।

    सी ग्रेड में 16 खिलाड़ी

    पिछले अनुबंध में सी ग्रेड में 12 खिलाड़ी शामिल थे जबकि इस बार सी ग्रेड में 16 खिलाड़ियों को जगह दी गई है। शिखर धवन बी से सी ग्रेड में आ गए हैं लेकिन बाएं हाथ के बल्लेबाज रैना की अनुबंध से ही छुट्टी हो गई है। ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह को भी अनुबंध से बाहर कर दिया गया है। सी ग्रेड में शामिल किए गए नए खिलाड़ियों में दिग्गज तेज गेंदबाज आशीष नेहरा, बल्लेबाज केदार जाधव, मनीष पांडे, करूण नायर, हार्दिक पांड्या, युजवेंद्र चहल, पार्थिव पटेल, जयंत यादव, मनदीप सिंह, शार्दुल ठाकुर और 19 साल के रिषभ पंत शामिल हैं। पुरानी सूची से अमित मिश्रा, अक्षर पटेल और धवल कुलकर्णी ने सी ग्रेड में अपनी जगह कायम रखी है। स्टुअर्ट बिन्नी, मोहित शर्मा, वरुण आरोन, कर्ण शर्मा और श्रीनाथ अरविंद को भी ग्रेड सी से बाहर कर दिया गया है।

    एक अक्टूबर से मिलेगी फीस

    पुरुष क्रिकेटरों के लिए एक अक्टूबर 2016 से बढ़ी हुई मैच फीस दी जाएगी। अब टेस्ट के लिए 15 लाख, वनडे के लिए छह लाख और टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच के लिए तीन लाख रुपए दिए जाएंगे। इस बीच स्वर्गीय राजेश सावंत की पत्नी संध्या राजेश सावंत को 15 लाख रुपए का चेक प्रदान किया गया है। राजेश सावंत जब भारतीय अंडर 19 टीम के साथ आधिकारिक असाइनमेंट पर थे तो दुर्भाग्यवश उनका निधन हो गया था। भारतीय क्रिकेट के प्रति उनकी सेवाओं के लिए यह चेक उनकी पत्नी को दिया गया।

     

    ग्रेड की मुख्य बातें

    - 2 करोड़ ए ग्रेड, 1 करोड़ बी ग्रेड और 50 लाख सी ग्रेड को

    - साहा और राहुल को मिला बी ग्रेड में प्रमोशन

    - बी ग्रेड से हटे सुरेश रैना, अंबाति रायुडू और शिखर धवन

    - युवराज की बी ग्रेड में वापसी, हरभजन लिस्ट से बाहर

    - सी ग्रेड से बाहर स्टुअर्ट बिन्नी, मोहित शर्मा, वरुण आरोन, कर्ण शर्मा और श्रीनाथ अरविंद

  • रघुवर सरकार नीरज हत्याकांड की कराये सीबीआइ जांच : सुबोधकांत

    धनबाद : धनबाद के पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह की मंगलवार शाम अंधाधुंध गोलीबार कर की गयी हत्या के बाद आज उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने पूर्व केंद्रीय मंत्री व वरिष्ठ कांग्रेस नेता सुबोधकांत सहाय पहुंचे. सुबोधकांत ने कहा कि सबको पता था कि नीरज की जान को खतरा है, वे जब एक मजदूर आंदोलन में गये थे तब भी उन पर गोली चली थी. उन्होंने मांग की कि रघुवर दास सरकार नीरज सिंह हत्याकांड की सीबीआइ जांच कराये.

    सुबोधकांत सहाय ने कहा कि नीरज सिंह धनबाद के कल्चर का नौजवान नहीं था. वह संस्कारी व्यक्ति थे, जिससे भी मिलते थे उसे अपना बना लेते थे. उन्होंने कहा कि उनकी मैय्यत में जुटी भारी भीड़ उनकी लोकप्रियता का परिचायक है.

    सुबोधकांत सहाय ने कहा कि धनबाद का शासन-प्रशासन दोनों मुख्यमंत्री के यहां से चलता है और आप जानते हैं कि भाजपा के एक विधायक ने दूसरे विधायक को कहा कि इनके अत्याचार के पीछे मुख्यमंत्री का वरदहस्त है.

    पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि नीरज का राजनीतिक कद बढ़ रहा था. इसलिए राजनीतिक साजिश के तहत उनकी हत्या की गयी. वे यहां के कल्चर से हटकर कोयलांचल के प्रमुख नेता के रूप में उभर रहे थे.

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी बिहार दिवस की शुभकामनाएं

    पटना. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के लोगों को बिहार दिवस की बधाई दी है। पीएम ने ट्वीट किया है 'बिहार दिवस के अवसर पर बिहार की जनता को मेरी ढ़ेरों शुभकामनाएं!'
     
    नशामुक्ति थीम पर मनाया जा रहा है बिहार दिवस
    इस बार का बिहार दिवस नशामुक्ति थीम पर मनाया जा रहा है। पटना, वैशाली, नालंदा समेत बिहार के सभी जिलों में नशा मुक्ति का मैसेज देने के लिए बुधवार सुबह को रैलियां निकाली गईं। दूसरी ओर पटना का गांधी मैदान बिहार दिवस के आयोजन का केंद्र बना हुआ है। गांधी मैदान को दुल्हन की तरह सजाया गया है। शाम पांच बजे बिहार दिवस (22 मार्च) के कार्यक्रमों का आगाज होगा, जिसके बाद लगातार तीन दिनों तक बिहार दिवस की धूम रहेगी।
     
    गांधी मैदान को दुल्हन की तरह से सजाया गया है। प्रकाशोत्सव के बाद लोगों को दूसरी बार गांधी मैदान की खूबसूरती देखने को मिल रही है। जगह-जगह इंद्रधनुषी द्वार, बड़े-बड़े पैवेलियन, खूबसूरत स्टॉल लगाय गए हैं तो लाइटिंग और लेजर शो की भी व्यवस्था की गई है।
 
LIVE NEWS
 
new scity
KASHISH NEWS PROGRAMMES
kashish News Programmes...
 
 
 
व्यापार
जियो का एक और धमाकेदार ऑफर: इस रिचार्ज पर 65GB डाटा फ्री

 

रिलायंस जियो का प्राइम मेंबरशिप के सिर्फ 7 दिन बचे हुए हैं और कंपनी ने अभी तक कई ऑफर...

 
खेल जगत
..PICTURE GALLERY
आपकी राय
क्या निखिल प्रियदर्शी को बचा रही है पुलिस ?
 
 
प्रादेशिक
विश्वजगत
 
Facebook Like
जरुर देखें
KASHISH NEWS OTHER SERVICES BE CONECTED   LINKS
© 2017 Kasish News. All rights reserved. Developed By : SAM Softech